Conditioning

किसी चीज का आदी बन जाना एक psychological process है।  हमारे अधिकतर व्यहार ,चीजो या माहौल या लगातार कुछ चीजो के अभ्यस्त रहना आदी  बनते रहते हैं। इसलिये हमे खुद को अच्छी चीजों का आदी बनाना चाहिये।

यादि हम कोई सही चीज सही ढ़ंग से करना चाहें तो वास्तव में उसे सही ढ़ंग से नही कर पाएंगे,इसका  मतलब यह हुआ की हमे उसकी आदत बनानी पड़ेगी।

आदत एक बहुत ही मुश्किल शब्द है, इसका छोड़ना और भी मुश्किल है, एक बार सही और गलत चीज़ की आदत पड़ जाता है तो उसका छुटकारा बहुत ही मुश्किल है, इसलिये अपने आप में अच्छी आदतें डालना बहुत जरूरी है,

अच्छी आदतों को अपनाना मुश्किल है, लेकिन उनके साथ जीना आसान है, बुरी आदतों को अपनाना आसान है मगर उनके साथ जीना मुश्किल है।

Advertisements

23 thoughts on “Conditioning

    1. Premier post sur un blog pourtant souvent parcouru. &l;eao; Plumq&nbspa&ruquo; acerbe, cependant plaisante a lire, on ne repart jamais plus con que l’on est arrive.Serait interesse par un Tokyo off mais n’habite pas sur Tokyo (Utsunomiya) et croit surtout savoir que ce Sakura ne laisse pas le portefeuille intact ?Bonne journee

      Liked by 2 people

  1. 👌👍👌👌👌👍👌👌👍👍👌👌👌👍👌👌👍👍👌👌👌👌👍👌👌👌👍👌👌👌👍👍👌👍👍👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌

    Liked by 2 people

  2. This is so very true Khushboo. It is so comforting to read your articles packed with nuggets of wisdom.
    यह बहुत सच्चे खुशबू है यह ज्ञान के सोने की डली के साथ पैक किए गए अपने लेखों को पढ़ने के लिए बहुत शान्तिपूर्ण है

    Liked by 1 person

  3. आदत ने लत से कहा “आप मुझे अच्छी नहीं लगती”
    लत ने आदत से कहा “तू मुझे अच्छी नहीं लगती”
    बस एक विवेक की कमी है जिसकी कमी हमें अच्छी नहीं लगती।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s